Skip to Content

Thursday, October 21st, 2021

अक्षिता पाठक को श्रीराम काव्यपाठ प्रतियोगिता में मिला प्रथम स्थान

Be First!
image_pdfimage_print
बोकारो: अखिल भारतीय साहित्यिक संस्था ‘राष्ट्रीय कवि संगम’ बोकारो महानगर इकाई द्वारा बुधवार को ‘श्रीराम काव्यपाठ प्रतियोगिता-2021’ का आयोजन गूगल मीट पर किया गया।
प्रतियोगिता के परिणाम गुरुवार को घोषित किए गए। कवि विशाल पंडित के संयोजन, राष्ट्रीय कवि संगम, बोकारो महानगर के महामंत्री सह प्रांतीय सोशल मीडिया प्रमुख ब्रजेश ब्रजवासी के संचालन में आयोजित इस प्रतियोगिता में 15 प्रतिभागियों ने भगवान श्रीराम की महिमा, उदारता, शक्ति और शील-सौंदर्य को दर्शाती रचनाओं का पाठ किया, जिसमें अक्षिता पाठक को प्रथम, श्रुति रंजन को द्वितीय व महाश्वेता को तृतीय स्थान मिला। ये तीनों प्रतिभागी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी। प्रतियोगिता में शामिल अन्य प्रतिभागियों में तुलसी विश्वास, कल्पना झा, राजेश कुमार मृदुल, आदित्य मिश्रा, कस्तूरी सिन्हा, प्रेम कुमार, गीता कुमारी, शीला तिवारी, लवलेश वर्मा, रमयाक्षी शेखर आदि शामिल थे।
प्रतियोगिता के निर्णायक मंडली में वरिष्ठ साहित्यकार व राष्ट्रीय कवि संगम, झारखंड के मुख्य मार्गदर्शक दिनेश रविकर, प्रांतीय उपाध्यक्ष उदय शंकर उपाध्याय व पंकज झा शामिल थे। प्रतियोगिता में बतौर अतिथि उपस्थित कवि व पुलिस पदाधिकारी सुरेश शौर्य ने राष्ट्रीय कवि संगम द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता की सराहना करते हुए कहा कि राष्ट्रीय आस्था के प्रतीक मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के जीवन पर केंद्रित काव्यपाठ से लोगों को प्रेरणा मिलेगी।
राष्ट्रीय कवि संगम, बोकारो महानगर अध्यक्ष अरुण पाठक ने बताया कि ‘श्रीराम काव्यपाठ राष्ट्रीय प्रतियोगिता-2021’ राष्ट्रीय कवि संगम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदीश मित्तल की पहल पर आयोजित हो रही है। यह विराट प्रतियोगिता तीन स्तरों-जिला स्तर, प्रांत स्तर व राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित हो रही है। प्रतियोगिता के झारखंड राज्य के प्रांतीय संयोजक रोहित अम्बष्ट हैं। इस प्रतियोगिता की खासियत है कि इसमें भाग लेने के लिए उम्रसीमा का बंधन नहीं है और इस प्रतियोगिता में प्रतिभागी अपनी लिखी कविता का पाठ स्वयं नहीं कर सकते हैं। प्रतिभागियों को किसी दूसरे रचनाकार की लिखी कविता का पाठ करते हैं। जिला स्तरीय प्रतियोगिता 15 सितंबर तक संपन्न होनी थी। प्रथम तीन विजेताओं को प्रांत स्तरीय प्रतियोगिता में भेजा जाएगा। प्रांत स्तरीय प्रतियोगिता 15 अक्टूबर तक सम्पन्न होगी। इसमें पहुँचे प्रतियोगी उसी कविता का पाठ करेंगे जिसके आधार पर वे चुने गए हैं। राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भी वही कविता रहेगी। प्रान्त के सर्वाेत्तम 6 प्रतियोगी राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे। राष्ट्रीय प्रतियोगिता दो चरणों में होगी। पहले क्षेत्र के अनुसार और अंतिम प्रतियोगिता दिल्ली में। अंतिम प्रतियोगिता 15 नवंबर, 2021 को होगी।
प्रांतस्तरीय प्रतियोगिता के विजेताओं में प्रथम को 5100, द्वितीय को 3100 तथा तृतीय को 2100 रुपये पुरस्कारस्वरुप दिए जाएंगे। राष्ट्रीय प्रतियोगिता के प्रथम विजेता को 31000, द्वितीय को 21000 और तृतीय को 11000 रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।
राष्ट्रीय कवि संगम, झारखंड राज्य इकाई की ओर से राष्ट्रीय मंत्री सह प्रांतीय प्रभारी दिनेश देवघरिया, प्रांतीय अध्यक्ष सुनील खवाड़े, उपाध्यक्ष उदय शंकर उपाध्याय व पंकज झा, प्रांतीय महासचिव सरोज झा के मार्गदर्शन में सभी जिला इकाईयों में जिला स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित करने के बाद अब राज्य स्तरीय प्रतियोगिता आयोजित करने की तैयारियां की जा रही हैं। इसके लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं।
Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*