Skip to Content

Saturday, June 25th, 2022

Renowned scientist Stephen Hawking passes away

Be First!
image_pdfimage_print

stephen-hawkingमहान वैज्ञानिक स्‍टीफन हॉकिंग का निधन हो गया,  हॉकिंग 76 साल के थे और लंबे समय से एक लाइलाज बीमारी से गुजर रहे थे। उन्होंने ब्लैक होल और बैंग थ्योरी पेश की थी। वह दुनिया को ब्रह्मांड के कई रहस्यों के साथ अचंभित कर चुके थे।

स्‍टीफन हॉकिंग के परिवार से मिली जानकारी के अनुसार, उनका निधन लंदन के कैंब्रिज में उनके घर पर हुआ। हॉकिंग मोटर न्यूरोन नामक लाइलाज बिमारी ग्रस्त थे। हाकिंग के दिमाग के अलावा शरीर का कोई हिस्सा काम नहीं करता था और सिर्फ दिमाग का इस्तेमाल कर उन्होंने कई थ्योरी साबित की थी। उनके बच्चों ने जानकारी देते हुए कहा कि हॉकिंग न केवल एक महान वैज्ञानिक बल्कि शानदार शख्सियत भी थे। हॉकिंग ने अपनी थ्योरी और रिसर्च से पूरी दुनिया को हैरान कर दिया था। ब्लैक होल और बैंग थ्योरी पर भी स्टीफन हॉकिंग कई तथ्य पेश किए थे। ब्रस्‍टीफन हॉकिंग की किताबें अ ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम, द ग्रैंड डिजाइन, यूनिवर्स इन नटशेल, माई ब्रीफ हिस्ट्री, द थ्योरी ऑफ एवरीथिंग काफी पॉपुलर रही हैं। ब्रह्मांड के रहस्यों पर भी वह कई हैरान कर देने वाले तथ्य पेश कर चुके हैं और अपने काम के लिए उच्च नागरिक सम्मान मिल चुका है।

स्टीफन का जन्म 8 जनवरी 1942 को इंग्लैंड के ऑक्सफ़ोर्ड में हुआ था। 1963 में महज 21 साल की उम्र में उन्हें पता चला कि वह मोटर न्यूरॉन नामक लाइलाज बीमारी से ग्रस्त हैं। डॉक्टर्स ने कहा था कि इस बीमारी की वजह से वह दो साल तक ही जिंदा रह सकेंगे, लेकिन आगे चलकर उन्होंने न सिर्फ डॉक्टर्स बल्कि अपनी थ्योरी से पुरी दुनिया को हैरान किया।

CT : https://hindi.gizbot.com/news/physicist-stephen-hawking-has-died-at-the-age-76-015313.html

 

 

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*